उत्तराखंड का स्वादिष्ट फल बेडु – Bedu Fhal Uttarakhand

Spread the love

नमस्ते दोस्तों स्वागत है आपका देव भूमि उत्तराखंड के आज की नई लेख में। आज के इस लेख के माध्यम से हम आप सभी लोगों के साथ उत्तराखंड का स्वादिष्ट फल बेडु   ( Bedu Fhal Uttarakhand ) के बारे में जानकारी देने वाले हैं। देवभूमि उत्तराखंड में तमाम प्रकार के प्राकृतिक स्रोत से फल एवं जड़ी बूटियां पाई जाती है। उन्हीं प्राकृतिक फल में से एक है बेडु फल  जोकि उत्तराखंड में काफी प्रसिद्ध है। देवभूमि उत्तराखंड के आज के इस लेख में हम उत्तराखंड का स्वादिष्ट फल बेडु ( Bedu Fhal Uttarakhand) और बेडु पोषक तत्वों (Bedoo Fruit Benefits)के बारे में जानकारी देने वाले हैं आशा करते हैं कि आपको हमारा यह लेख जरूर पसंद आएगा इसलिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ना।

बेडु के बारें में Bedu Fhal Uttarakhand

उत्तराखंड वनस्पति के मामले में भरपूर है। जंगली पेड़, पौधों से लेकर खाने-पीने की चीजों की कमी नहीं है। उन्ही में से एक है बेडू का फल जिसके सेवन से पेट की कब्ज, तंत्रिका विकार, जिगर की परेशानियों से छुटकारा मिलता है। उत्तराखंड के औषधीय फल   ( Bedu Fhal Uttarakhand ) में शामिल बेडु काफी लोकप्रिय फल है।  जिसने  उत्तराखंड की संस्कृति को एक अलग पहचान दिलाई हुई है।   नन्हा से दिखने वाला यह लाल रंग का फल खाने में स्वादिष्ट होने के साथ साथ स्वास्थय के लिए बेहद लाभदायक माना जाता है।   बेडु फल उत्तराखंड ( Bedu Fhal Uttarakhand ) के हर जगह  इसका पेड़ पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है।  समुद्र के स्तर से लगभग  1,550 मीटर ऊपर स्थानों पर यह  पौधे पाए जाते  हैं। उत्तराखंड के  गढ़वाल और कुमाऊँ के क्षेत्रों में इनका सबसे अच्छे से उपयोग किया जाता है।

वैसे तो यह पौधा है उत्तराखंड मैं सब जगह पाया जाता है लेकिन देखा जाए तो यह उत्तराखंड के गांव और गांव के बंजर खेतों में अधिक पाए जाते हैं। उत्तराखंड के लोगों द्वारा बेडू हमको बहुत पसंद किया जाता है। गर्मियों के समय में यह फल शरीर को ठंडक पहुंचाने के साथ-साथ तमाम प्रकार के शारीरिक रोगों से भी मुक्त करता है। 

बेडू फल ग्रीष्म ऋतु में मई और जून के माह में पौधें से विकसित होना शुरु हो जाते है ।  न केवल बेडू का फल बल्कि बेडू पौधें के पत्तियां भी उपयोग में लाए जाए है ।

बेडु फल के पोषक तत्वा, Bedoo Fhal Poshak Tatwa

स्वस्थ्य  के लिए लाभदायक माना जाना वाला बेडु के फल में तमाम प्रकार के पौष्टिक तत्वा पाए जाते है जो को शरीर को कई रोगों से बचाने में मदद करते है।  बेडु फल पौधें का  उपयोग आयुर्वेद में बिभिन्न रूपों में किया जाता है।  इसमें पाए जाने वाले गुणकारी पोषक तत्वा मानव शरीर के लिए औषधि का कार्य करते है।  बेडु फल के पोषक तत्वों में विटामिन ए, बी1, बी2 और कार्बोहाइड्रेट के साथ साथ आहार फाइबर एवं अन्य गुणकारी तत्वों का उत्कृष्ट स्रोत हैं

बेडू फल के फायदे,  Bedoo Fruit Benefits  

बेडू उत्तराखंड में पाएं जाना वाला एक औषधीय  पौधा है जिसका पत्तियों से लेकर फल तक उपयोग में लाया जाता है।  बेडू फल के औषधीय गुण मानव शरीर के लिए बेहद लाभ दायक होते है।  इसका फल खाने में उपयोग तो किया ही जाता है।  लेकिन इसके पत्तियों को दुधारू पशुओं को दूध की  बढ़ोतरी के लिए  खिलाया जाता है।  बेडू फल के फायदे, (Bedoo Fruit Benefits ) कुछ इस प्रकार से है।  

  • चोट लगने में – बेडू फल से निकलने वाला सफ़ेद दूध (चोप ) चोट में मददगार होता है।  चोट लगी जगह पर बेडू फल का दूध लगाने से जल्दी आराम मिलता है 
  • फेफड़ों के लिए उपयोगी माना जाता है बेडू फल –   इसमें पाएं जाने वाले औषधीय तत्वा से  फेफड़़ों की बीमारियां एवं साँस सम्बन्धी रोग ठीक  होते है।  
  • शरीर के विकास में लाभदायक है बेडू फल – बेडू फल  के औषधीय गुणकारी तत्वा मानव शरीर के विकास में मदद करते है।  
  • जानवरों के लिए फायदेमंद है बेडू फल – बेडू फल के पौधें में दुधारू पशुओं के  दूध की  बढ़ोतरी के गुण भी विद्यमान है। बेडू फल के पत्तियों को  दूध की  बढ़ोतरी के लिए  खिलाया जाता है।  

उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको देवभूमि उत्तराखंड का यह लेख पसंद आया है तो अपने दोस्तों और परिवार के साथ जरूर साझा करें।

अस्वीकरण

प्यारे पाठको यह लेख केवल जानकारी एवं शैक्षणिक प्रयोग के लिए साझा किया गया है। बेडू फल का उपयोग किसी भी प्रकार के उपचार में करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। देवभूमि उत्तराखंड आपको कभी भी किसी भी प्रकार की औषधि को अपनाने की सलाह नहीं देता है।     


Spread the love

Leave a Comment

You cannot copy content of this page

×

Hello!

Click one of our contacts below to chat on WhatsApp

× Chat with us