रस्किन बॉन्ड जीवन परिचय, Ruskin Bond Biography In Hindi

Spread the love

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका देवभूमि उत्तराखंड के आज के नए लेख में। के इस लेकर माध्यम से हम आप लोगों के साथ प्रसिद्ध लेखक रस्किन बॉन्ड की जीवन परिचय के बारे में जानकारी देने वाले हैं। दोस्तों जैसे कि हम सभी लोग जानते हैं कि रस्किन बॉन्ड सबसे पुराने एवं प्रसिद्ध लेखकों में से एक है। उनके बारे में जानना और पढ़ना हर कोई चाहता है। देवभूमि उत्तराखंड के आज के इस लेख में हम आपको हम आपको रस्किन बॉन्ड के जीवन परिचय, ( Ruskin Bond Biography) कैरियर, किताबें एवं उपलब्धियां के बारे में जानकारी देने वाले हैं। आशा करते हैं कि आपको हमारा यह लेख जरूर पसंद आएगा इसलिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ना।

रस्किन बॉन्ड जीवन परिचय. Ruskin Bond Biography

रस्किन बॉन्ड ब्रिटिश मूल के एक भारतीय लेखक है।( Ruskin Bond Biography) रस्किन बॉन्ड का जन्म 19 मई 1934 को पंजाब के कसौली हुवा। इनके पिता का नाम आब्रो क्लार्क और माता का नाम एडिथ क्लार्क है। भारतीय साहित्य को बढ़ावा देने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका मानी जाती है उन्होंने 500 से भी अधिक लघु कथाएं निबंध एवं उपन्यास लिखे हैं। रस्किन बॉन्ड की सबसे प्रसिद्ध उपन्यास से हिंदी में एक मूवी भी बनाई गई है जिसका नाम द ब्लू अंब्रेला उपन्यास है । फोन कम की बात यह भी है कि इस फिल्म को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से 2007 में सम्मानित किया गया था।

रस्किन बॉन्ड का प्रारंभिक जीवन. Ruskin Bond’s early life

बचपन से ही माता-पिता से अलग होने के कारण उनका प्रारंभिक जीवन दुखों से भरा था। उनके पिता के मृत्यु के कारण उन्हें परिवार के सभी जिम्मेदारियां खुद ही संभालनी पड़ी थी। उन्हें कहानी लिखने का बहुत शौक था इसलिए वह अपना अधिकांश में एकांत में विताकर कहानी लिखा करते थे। 16 साल की उम्र में उन्होंने अपनी पहली कहानी अछूत लिखी। अपने लिए बेहतर विकल्प की तलाश में यूनाइटेड किंगडम निकल गए और कुछ वर्षों बाद भारत लौटे। वापस भारत लाने के पश्चात उन्होंने पत्र पत्रिकाओं के लिए लघु कथाएं और कविताएं लिखना शुरू किया। इनका प्रारंभिक जीवन औपनिवेशिक शासन के अधीन भारत के जामनगर और शिमला में बीता है। वह चार्ल्स डिकेंस और रूडयार्ड किपलिंग के कार्यों से प्रभावित हुए । लेखन कार्यों की ओर रुख बदलने के कारण उन्होंने इर्विन दिव्यता पुरस्कार और हेली लिटरेचर पुरस्कार जैसे कई लेखन प्रतियोगिताओं में जीत हासिल की।

रस्किन बॉन्ड व्यक्तिगत जीवन. Ruskin Bond Personal Life

रस्किन बॉन्ड उन व्यक्तियों में से एक है जो अपनी सफलता के पीछे खुद ही भागते रहे और यही कारण है कि उन्होंने अपने पूरा जीवन अकेले में बिता रहे हैं। रस्किन बॉन्ड उत्तराखंड के मसूरी में रहकर एक अविवाहित जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

रस्किन बॉन्ड का करियर. Ruskin Bond’s career

आज के समय में रस्किन बॉन्ड का करियर उनकी प्रसिद्ध की ही देन है। उनके उपन्यासों पर मूवीस बनना भी शुरू हो गए हैं।
शुरुआती समय में अपने लेखनिया कला को लोगों तक पहुंचना काफी मुश्किल कार्य था जिसके लिए वह कई प्रयास करते रहे यहां तक की उन्होंने कुछ समय के लिए एक फोटो स्टूडियो में काम भी किया। जब उन्हें अपनी इस लेखन कला से पैसा आना शुरू हुआ तो वह भारत के देहरादून शहर में बस गए।

सन 1963 में भी मसूरी चले गए जहां से भी अखबार और पत्र पत्रिकाओं के लिए लघु कथाएं एवं कविताओं को कलमबद्ध किया। इस समय तक वह एक लोकप्रिय लेखक के रूप में अपनी जगह बना चुके थे और उनके निबंध और कई लेख पत्रिकाओं में भी प्रकाशित होते थे।

बात है सन 1980 की जब रस्किन बॉन्ड के सबसे लोकप्रिय उपन्यासों में से एक ब्लू अंब्रेला प्रकाशित हुआ। उनके इस उपन्यास ने पेंगुइन बुक्स का ध्यान आकर्षित किया और 1980 के दशक में उन्होंने लेखक रस्किन बॉन्ड से संपर्क किया और उन्हें कुछ किताबें लिखने के लिए कहा , जिसके लिए उन्होंने कुछ उपन्यास भी लिखे जो की पेंगुइन इंडिया के एक खंड में प्रकाशित किए गए थे।

रस्किन बॉन्ड के प्रमुख पुरस्कार एवं उपलब्धियां. Ruskin Bond’s major awards and achievements

अपने इस लेखन के सफर में प्रसिद्ध लेखक रस्किन बांड ने कई उपलब्धियां भी हासिल की जिनमें से एक है सन 1992 में साहित्य अकादमी द्वारा उन्हें पुरस्करित किया गया जो कि उनके लेखनी ( अवर ट्रीज स्टील ग्रो इन देहरा ) के लिए मिला। इलाहाबाद सन 1999 में उन्हें पद्मश्री एवं 2014 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

रस्किन बॉन्ड के प्रमुख रचनाएं. Major works of Ruskin Bond

  1. द बेस्ट ऑफ़ रस्किन बॉन्ड
  2. एक चेहरा अंधेरें में और अन्य अड्डा
  3. हमारे पेड़ ग्रो इन देहराएक मौसम का भूत
  4. राज भूत की कहानियां
  5. द नाईट ट्रेन एट देवली
  6. टाइम स्टॉप्स इन शामली

दोस्तों यह था हमारा आज का लेख जिसमें हमने आपको रस्किन बॉन्ड के जीवन परिचय के बारे में जानकारी दी। आशा करते हैं कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। आपको यह ले कैसा लगा हमें टिप्पणी के माध्यम से जरूर बताएं और यदि आप भी अपना लेख हम तक पहुंचाना चाहते हैं तो आप हमें ईमेल के माध्यम से भी संपर्क कर सकते हैं।

1) रस्किन बॉन्ड वर्तमान में कहां रहता है ?

Ans – रस्किन बॉन्ड प्रकृति के सुकून में आज कल वे अपने परिवार के साथ देहरादून जिला ( मसूरी ) में रहते है।

2) रस्किन बॉन्ड का जन्म कहां हुआ था ?

Ans – रस्किन बॉन्ड का जन्म 19 मई 1934 को पंजाब के कसौली हुवा। इनके पिता का नाम आब्रो क्लार्क और माता का नाम एडिथ क्लार्क है।

3) रुस्किन बॉन्ड बच्चों के लिए क्यों प्रसिद्ध है ?

Ans – रुस्किन बॉन्ड बच्चों के लिए उन्होंने 70 से भी अधिक किताबें लिख चुके हैं। सिंपल लैन्गुएज के कारण उनकी किताबें बच्चों में रीडिंग हैबिट्स डेवलप करने में सक्षम हैं। समय-समय पर वह चाइल्ड डेवलपमेंट के लिए भी टिप्स देते रहते हैं।

4 ) रस्किन बॉन्ड द्वारा लिखी गई पहली पुस्तक कौन सी है ?

Ans – रस्किन बॉन्ड के पहले उपन्यास, द रूम ऑन द रूफ को 1957 में जॉन लेवेलिन राइस पुरस्कार मिला।

5) रस्किन बॉन्ड का असली नाम क्या है ?

Ans – ” इंडियन विलियम वर्ड्सवर्थ ” के नाम से मशहूर रस्किन बॉन्ड का करियर उनकी प्रसिद्ध की ही देन है। उनके उपन्यासों पर मूवीस बनना भी शुरू हो गए हैं।

6) रस्किन बांड ने अपना बचपन कहां बिताया था। ?

Ans – इनका प्रारंभिक जीवन औपनिवेशिक शासन के अधीन भारत के जामनगर और शिमला में बीता है।

  1. यह भी पढ़ें : –
  2. उत्तराखंड राज्य परिचय. Uattarakhand Parichay
  3. सुमित्रानंदन पंत जीवन परिचय.Sumitranandan Pant Biography
  4. चन्द्रकुंवर बर्त्वाल जीवन परिचय. Chandrakunwar Bartwal Biography
  5. कल्पना चौहान जीवन परिचय. Kalpana Chauhan Biography
  6. जुबिन नौटियाल जीवन परिचय .Jubin Nautiyal Biography
  7. बद्री दत्त पांडे जीवन परिचय। Badri Dutt Pandey Biography

Spread the love

Leave a Comment

You cannot copy content of this page

×

Hello!

Click one of our contacts below to chat on WhatsApp

× Chat with us